एजुकेशन लोन कैसे मिलता है?

शिक्षा का महत्वा आये दिन बढ़ रहा है उसी प्रकार से एजुकेशन के खर्चे भी बढ़ते जा रहे है अधिकांश स्टूडेंट अपनी पढाई शीर्ष कॉलेज यूनिवर्सिटी या इंस्टिट्यूट से करना चाहते है लेकिन आर्थिक मजबूती न होने के कारण एजुकेशन लोन की नौबत आ जाती है लेकिन बात आती है की एजुकेशन लोन कैसे मिलता है. या एजुकेशन लोन कैसे लें. इस पर विशेष जानकारी न होने की वजह से कई छात्र चिंतित रहते है।

जिस प्रकार शिक्षा की लागत बढ़ती जा रही है उसी हिसाब से स्टूडेंट लोन के ओर बढ़ रहे है इसलिए कई बैंक भी अपने कदम आगे ला रहे है एजुकेशन लोन देने में, जिसमे कई बैंक शामिल है जो बड़ी आसानी से कुछ मामूली इंटरेस्ट के साथ लोन की सुविधा दे रहे है इन बैंको की बात हम आगे लेख में करेंगे।

एजुकेशन की महगाई देखते हुए लोन की प्रकिर्या काफी सिंपल होती जा रही है जिससे छात्र आसानी से लोन लेकर अपने सपनो को साकार कर सके बहुत सारे छात्रों के सपने होते है की अपने जीवन में इंजीनियर डॉक्टर या मैनेजमेंट क्षेत्र में करियर बनाना चाहते है लेकिन इन क्षेत्र में काफी अधिक लागत आ जाती है।

यदि आप आगे की पढाई किसी अच्छे इंस्टीटूशन में करना चाहते है और लोन लेने के बारे में सोचा रहे तो यह लेख आपको मदद कर सकता है इसमें जानकारी मिलेगा की किस किस कोर्स के लोन मिल सकता है कितना इंटरेस्ट लगेगा कितने समय के लिए लोन ले सकते है कितना रकम ले सकते है इसके अतिरिक्त प्रश्नो के उत्तर जानेंगे।

एजुकेशन लोन कैसे मिलता है?

education-loan-kaise-milta-hai

एजुकेशन लोन कई बैंक कम व्याज पर छात्रों को देते है वही कुछ फाइनेंस कंपनीया भी एजुकेशन लोन की सुविधा देती है लेकिन इनका व्याज दर थोड़ा अधिक होता है तथा अधिक लोन भी नहीं देते है उसके अलावा गारंटर की आवश्यकता होती है इसमें काफी झमेला रहता है बैंक एजुकेशन के मुकाबले इस लिए अधिकांश छात्र बैंक से ही शिक्षा ऋण लेते है।

इसके अलावा इंटरनेट पर कुछ कंप्यूटर कोर्स लिए और कुछ ऐसे प्लेटफार्म है जो शिक्षा ऋण देते है यदि आप किसी शीर्ष विश्वविद्यालय भारत या विदेश में किसी विश्वविद्यालय से शिक्षा हासिल करना चाहते है तो आप बैंक से लोन ले क्योकि बैंक लोन में रिस्क लेवल कम हो जाता है वही कही और से लोन लेने पर रिस्क बढ़ जाता है।

एजुकेशन लोन में किन चीजों के लिए लोन दिया जाता है?

एजुकेशन लोन लेने के लिए आपके कोर्स के मुताबिक कितना खर्चा आएगा पूरा कैलकुलेशन किया जायेगा किन किन चीजों को एजुकेशन लोन में कवर किया जायेगा आइये जानते है।

  • स्कूल / कॉलेज / विश्वविद्यालय / की फीस
  • हॉस्टल की फीस
  • परीक्षा फीस और सम्बंधित शुल्क
  • बुक के खर्चे
  • लेबोरेटरी शुल्क
  • उपकरणों शुल्क
  • प्रोजेक्ट शुल्क और खर्चे
  • यूनिफार्म शुल्क
  • छात्र जीवन बीमा प्रीमियम
  • कोर्स में आवश्यक है तो कंप्यूटर का लागत
  • इसके अलावा सिलेबस में ज़रूरी खर्चे का कवर मिलता है।

अब आपको मालूम हो गया होगा की एजुकेशन लोन में किन खर्चो के लिए बैंक पैसा देता है ये आप कोर्स के अनुसार और कितना व्यय होगा यह सब देखकर बैंक एजुकेशन लोन के लिए तय करता है।

लोन किसे मिल सकता है?

  • भारत का नागरिक होना ज़रूरी है।
  • उस संसथान में रेगुलर कोर्स में एडमिशन लेना होगा जहा फीस लगता हो।
  • विदेशी पढाई और भारत में पढाई करने के लिए अलग अलग राशि लोन की प्राप्त होती है।
  • आप पीछे जो भी पढाई पूरी कर चुके है उसका सर्टिफिकेट होना चाहिए।
  • आप आगे किस क्षेत्र में पढाई करना चाहते है ये आपको पहले तय करना होगा।
  • इसके अलावा आपके कुछ ज़रूरी दस्तावेज होने ज़रूरी है।
  • छात्र का हाई स्कूल और इंटरमीडिएट का सर्टिफिकेट होना ज़रूरी है मांग की जा सकती है।
  • एप्लिकेंट की सैलरी स्लिप या आईटीआर की कॉपी भी मांगी जा सकती है।

किन कोर्सो के लिए लोन मिल सकता है?

  • फुल टाइम पार्ट टाइम वोकेशन कोर्स के लिए लोन ले सकते है।
  • इंजीनियरिंग कोर्स के लिए लोन ले सकते है।
  • मेडिकल क्षेत्र के कोर्स के लिए लोन ले सकते है।
  • होटल मैनेजमेंट कोर्स के लिए लोन ले सकते है।
  • बिज़नेस मैनेजमेंट या मैनेजमेंट कोर्स के लिए लोन ले सकते है।
  • डिप्लोमा / डिग्री कोर्स के लिए लोन ले सकते है।
  • आर्किटेचर कोर्स के लिए लोन ले सकते है।
  • इसके अलावा भी कोर्स के लिए लोन लिया जा सकता है।

एजुकेशन लोन कितना मिलता है?

यह एक अहम सवाल है तो मैं आपको बता दू यदि आप अपनी एजुकेशन भारत में करते है तो बैंक आपको 10 से 15 लाख रूपये तक दे सकता है वही आप विदेश में अपनी शिक्षा पूरा करना चाहते है किसी अच्छे इंस्टीटूशन से तो यह रकम बैंक बढाकर 20 लाख रूपये कर सकता है।

इस राशि को आपको कोर्स कम्पलीट होने के बाद वापिस करना होता है कोर्स पूरा होने के 6 महीने बाद से आपकी लोन ईएमआई भरनी पड़ती है इस राशि को वापस करने के लिए बैंक 5 से 7 साल का मोहलत दे देता है कोर्स के दौरान आपको व्याज सामान्य देना होता है जिससे किस्तों में देना होता है ताकि छात्र का बोझ भारी न पड़े।

एजुकेशन लोन कैसे प्राप्त करें?

एजुकेशन लोन लेना काफी सिंपल है पहले आपको ऊपर के लेख में बताये गए सारे दस्तावेज तैयार करने है उसके बाद आपको तय करना है कौन सा कोर्स करना है और कहा से करना है ये सारा कम्पलीट होते ही आप किसी बैंक में जा सकते है लोन के लिए, अगर आपका किसी भी बैंक में खाता पहले से खुला तो उसी बैंक के पास जाये वहा से लोन लेना थोड़ा आसान हो सकता है।

आपको किसी अच्छे कॉलेज में एडमिशन लेने के बारे में सोचना है ताकि बैंक आपको बिना संकोच के लोन देने का फैसला कर सके इस प्रकिर्या को फॉलो करके एजुकेशन लोन ले सकते है।

इसे भी पढ़े:- बैंक में हस्ताक्षर बदलने के लिए आवेदन.

एजुकेशन लोन व्याज दर।

कई बैंक भारत में पढ़ने वाले छात्रों से कम व्याज दर लेते है वही विदेश में पढ़ने वाले छात्रों से अधिक लेते है यहाँ पर व्याज दर 8 प्रतिशत से लेकर 13 प्रतिशत तक बैंक एजुकेशन लोन व्याज लेता है अधिकांश बैंक इसी व्याज दर पर लोन देते है।

निष्कर्ष

आशा है यह आर्टिकल पढ़कर एक चीज का ज़रूर पता चल गया होगा की एजुकेशन लोन कैसे मिलता है काफी सिंपल सी प्रकिर्या है इसे अपनाकर किसी भी बैंक से एजुकेशन लोन ले सकते है अधिकांश बैंक लोन की सुविधा दे ही देते है क्योकि बैंक को व्याज चाहिए व्याज तो लोन से ही अधिक प्राप्त होता है।

यह आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे शेयर करे ताकि अधिक लोगो तक यह जानकारी पहुंच सके जिससे जो छात्र लोन लेकर अपनी शिक्षा पूरा करना चाहते है तो इस आर्टिकल को पढ़कर उन्हें एक आईडिया लग जायेगा किस तरह से लोन लेकर पढाई कम्पलीट कर सकते है।

3 thoughts on “एजुकेशन लोन कैसे मिलता है?”

  1. That is all suggestions are very simple and super for medical students

    Reply

Leave a Comment

error: Content is protected !!