लेटर राइटिंग इन हिंदी – letter writing in hindi.

लेटर लेखन एक बेहतरीन कला है लेकिन अक्सर लोगो को लेटर लिखना नहीं आता है कई लोगो चिंतित रहते है लेकिन यह चिंता का विषय नहीं है इस लेख में हम आपको यही बताने वाला हूँ की लेटर राइटिंग इन हिंदी या लेटर हिंदी में कैसे लिखते है. इसकी पूर्ण जानकारी देने वाला हूँ।

लेटर दो तरीको से लिखा जाता है एक औपचारिक पत्र (Formal Letter) दूसरा अनौपचारिक पत्र (Informal Letter) इसकी विशेष जानकारी मैं आपको आगे लेने वाला हु।

किसी प्रकार के पत्र में सहज और सरल शब्द सामान्य जीवन में प्रयोग आने वाले शब्दों का ही इस्तेमाल करे जिससे लेटर पढ़ने वाला व्यक्ति आपके द्वारा बताई गयी बात को अच्छे से समझ सके पत्र ही एक माध्यम है जिसमे वो बाते भी लिख सकते है जो हम बोलने में हिचकिचाते है।

लेटर अक्सर मित्रो या सहयोगियों के हलचाल जानने और अपना बताने के लिए लिखा जाता है लेकिन इस आधुनिक युग में हमारे पास बहुत संसाधन मौजूद है एक दूसरे के बीच संपर्क बनाने के लिए फिर भी हिंदी में लेटर कैसे लिखते है जानना ज़रूरी है।

लेटर राइटिंग इन हिंदी.

पत्र लेखन आज भी चलन में है काफी लोग पत्र लिखकर अपने भावो विचारो को व्यक्त करते है और लेटरो में व्यक्ति अपनी विशेष बातो को लिखकर अपने मित्रो, रिश्तेदारों, माता पिता, स्कूल टीचर, सरकारी अधिकारी, या अन्य को लेटर लिखकर अपनी बात बता सकते है।

लेटर दो प्रकार के होते है लेकिन दोनों लेटरो अलग अलग तरीके से लिखा जाता है आइये जानते है।

  • औपचारिक पत्र (Formal Letter)
  • अनौपचारिक पत्र (Informal Letter)

औपचारिक पत्र : यह पत्र उन व्यक्तियों को लिखा जाता है जिन्हे हम नहीं जानते है किसी अनजान व्यक्ति को यह पत्र किसी सरकारी कर्मचारी, सरकारी या प्राइवेट कार्यालय, या किसी संस्थान से जुड़े व्यक्तियों को लिखा जाता है।

इस पत्र में बहुत सजह और शिष्टापूर्ण शब्दों का इस्तेमाल किया है ताकि पढ़ने वाले व्यक्ति को लेख में लिखे शब्द आसानी से समझ आ जाये।

फॉर्मल लेटर में काम की बाते या किसी समस्या के बारे में किसी व्यक्ति को बताना होता है तब लिखा जाता है इस पत्र से किसी अधिकारी से शिकायत करना या किसी अपने कार्य को करवाने का मांग करने के लिए लिखा जाता है।

फॉर्मल लेटर कैसे लिखे?

सेवा में

शाखा प्रबंधन

इंडियन बैंक लखनऊ (संस्था का नाम पता लिखे)

विषय : एटीएम कार्ड प्राप्त करने हेतु।

सविनय निवेदन है की मैं सलमान अहमद यह मेरा खाता संख्या______ है इस खाते से हमे अभी तक एटीएम कार्ड नहीं मिला है मुझे एटीएम कार्ड की आवश्यकता है मुझे लेनदेन करने में काफी परेशानी होती है।

श्रीमान जी आपसे अनुरोध है इस खाते से एटीएम कार्ड जारी करने का कष्ट करे आपकी महान कृपा होगी।

दिनांक_________

खाताधारक

नाम ________

खाता सांख्या________

मोबाइल न ०_______

इस लेटर को आप निचे फोटो में भी देख सकते है।

letter-writing-in-hindi

अनौपचारिक पत्र : यह पत्र अपने किसी जानने वाले व्यक्ति को लिखा जाता है जिसमे अपनी पहचान के साथ अपना हालचाल और स्थिति के बारे में विस्तार से लिखकर बताया जाता है।

इनफॉर्मल लेटर आपने सम्बन्धी माता-पिता भाई-बहन किसी रिश्तेदार मित्र सह-पाठी या किसी व्यक्तिगत सम्बन्ध में रहने वाले व्यक्ति को लिख सकते है जिसमे हालचाल सूचना किसी को ख़ुशख़बरी या निमंत्रण दे सकते है।

इस पत्र में सहज भाषा या सरल शब्द का ही इस्तेमाल करे इस लेटर में आप अपनी पूरी बात लिख सकते है स्टेप वाई स्टेप अपनी बात को रख सकते है इन पत्रों में शब्दों का कोई रोकथाम नहीं होता है जितने मन उतने शब्द का इस्तेमाल करते हुए अपने बात को बता सकते हो।

इनफॉर्मल लेटर कैसे लिखे?

गोमती नगर लखनऊ (पूरा पता लिखे)

मेरे प्यारे माता-पिता

सलाम / नमस्ते

मैं बिलकुल ठीक हूँ मेरा काम अच्छा चल रहा है घर आने में अभी कुछ समय लग सकता है लेकिन अभी सब अच्छा चल रहा है आप लोग कैसे है काफी दिनों से आपका कोई पत्र नहीं आया और किसी भी प्रकार का कोई हालचाल नहीं मिला है इसके लिए मैं चिंतित हूँ।

मेरे प्यारे परिजन आपको यह बताते हुए काफी खुस हो रहा हूँ उम्मीद है आप भी सुनकर खुश होंगे पीछले हफ्ते दिनांक 22-02-2021 को मैंने एक नयी ऑफिस बनायीं है और अच्छे से डेकोरेट किया है अब कुल मिलकर मेरी तीन ऑफिस हो चुकी है।

अब काम बहुत अच्छा चल रहा है कमाई भी अच्छी हो रही है काम करते हुए अच्छा लग रहा है और मेहनत करके मैं काम कर रहा हूँ आप लोग मेरे लिए दुआ करे की मैं ऐसे काम करता रहु और आगे बढ़ता रहु।

अब मैं अपनी बात को समाप्त करता हूँ यह जानकर आपको ख़ुशी हुयी होगी यह पत्र पढ़कर आप भी एक पत्र लिखकर मुझे भेजे जिसमे घर की पूरी स्थिति के बारे बताये और आप लोग कैसे है यह भी बताये।

मैं आपका प्यारा बेटा सलमान

दिनांक___________

letter-writing-in-hindi

और पढ़े……

लेटर लिखने की आवश्यकता क्या है?

जब किसी एक दूसरे व्यक्ति के बीच दुरी होती है और काफी दिनों से मुलाकात नहीं होती है कोई हालचाल नहीं होती है और दूसरे के स्थिति के बारे में पता नहीं होता है तब हम एक दूसरे के बारे जानने के लिए एक चिठ्ठी लिखते है अपनी स्थिति के बारे बताते है और अपने के बारे में बताते है।

लेटर पहुंचने के बाद उधर भी उसके द्वारा उत्तर भेजा जाता है उधर की भी कई प्रकार की जानकारी आप तक पहुचायी जाती है यह हम अपने सम्बन्धी के साथ करते है।

भले आज इस आधुनिक युग में तरह तरह की टेक्नॉलजी का इस्तेमाल करके एक दूसरे के बीच संपर्क बनायीं जाती है लेकिन आज बहुत सारी जगहों पर बिना एप्लीकेशन या लेटर के बिना कोई कार्य होता है और काफी प्रचलन में भी है।

निष्कर्ष

मुझे आशा है की आपको यह लेख पसंद आया होगा इस आर्टिकल में बताई गयी जानकारी आपको समझ आयी होगी है यह आपको सिखाता है कि लेटर राइटिंग इन हिंदीletter writing in hindi. कैसे करते है इसकी विशेष जानकारी आर्टिकल में मेंशन की गयी और आपको जानकारी दी गयी है।

यदि इस लेख से आपका किसी प्रकार का कोई प्रश्न है जिसके बारे आप डीप में जानकारी जानना चाहते है तो आप लेख के निचे दिए कमेंट बॉक्स का सहारा ले और मुझे अपना प्रश्न बताये जिसका आपको उत्तर ज़रूर दिया जायेगा।

यह जानकारी आपको अच्छी लगी हो कुछ सिखने को मिला हो तो इसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर शेयर करे ताकि अधिक लोगो को तक इसकी जानकारी पहुंच पाए।

2 thoughts on “लेटर राइटिंग इन हिंदी – letter writing in hindi.”

Leave a Comment