क्रेडिट कार्ड के लिए कितनी सैलरी होनी चाहिए?

क्रेडिट कार्ड को लेकर हर व्यक्ति के मन में कई पश्न उठते है जैसे क्रेडिट कार्ड के लिए कितनी सैलरी होनी चाहिए, क्रेडिट कार्ड कितने दिन में बन जाता है. क्रेडिट कार्ड के फायदे और क्रेडिट कार्ड के नुकसान के बारे में विस्तृत जानकारी प्राप्त करेंगे साथ ही कैसे और कहा से क्रेडिट कार्ड को बनवा सकते है इसकी भी जानकारी इस लेख में जानेगे।

वर्तमान समय में अधिकतर नौकरी पेशा व्यक्तियों के द्वारा क्रेडिट कार्ड इस्तेमाल किया जाता है और जो इस्तेमाल नहीं कर रहे है वो इस्तेमाल करना चाहते है लेकिन उन यूजर के मन यह प्रश्नः बार बार आता है की अकाउंट में हर महीने कितना वेतन आना चाहिए जिससे बैंक आसानी से क्रेडिट कार्ड खाताधारक को दे सकता है इसकी जानकारी हम इस लेख में जानेंगे।

आज के इस आधुनिक युग में सभी व्यक्तियों की क्रेडिट कार्ड की ज़रुरत बन गयी है बहुत सारे लोग कॅश लेकर चलना नहीं पसंद करते है और क्रेडिट कार्ड से पेमेंट करना पसंद करते है इस लिए क्रेडिट कार्ड यूजर तेजी से बढ़ रहे है और क्रेडिट इस्तेमाल करना काफी सिंपल भी है क्रेडिट कार्ड से बहुत आसानी से लोग पेमेंट कर पाते है शॉपिंग कर पाते इसके अलावा भी बहुत सारी चीजों को आसानी से पूरा कर पाते है।

क्रेडिट कार्ड बनवाना भी काफी सिंपल हो गया है इस वजह से भी बहुत सारे लोग यह कार्ड इस्तेमाल करना पसन्द करते है लगभग सभी बैंक और फाइनेंस कंपनियों के द्वारा खाताधारक को क्रेडिट कार्ड मुहैया करवाई जाती है यदि आपका किसी भी बैंक में खाता है तो आप क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई कर सकते है और उसे यूज़ कर सकते है लेकिन हाँ क्रेडिट सभी खाताधारक को नहीं मिलता है इसके लिए कुछ चीजों की ज़रूरत पड़ती है आइये जानते है।

क्रेडिट कार्ड के लिए कितनी सैलरी होनी चाहिए?

credit-card-ke-liye-kitni-salary-honi-chahiye

सबसे पहले क्रेडिट कार्ड के बारे में जाने क्रेडिट कार्ड एक प्लास्टिक का कार्ड होता है जिस तरह एटीएम कार्ड होता है एटीएम कार्ड को डेबिट कार्ड कहा जाता है उसी तरह क्रेडिट कार्ड भी होता है जोकि यूजर के बैंक अकाउंट से लिंक होता है एटीएम कार्ड से खाताधारक उतना रकम निकाल सकता है जितना उसके खाते में मौजूद है वही क्रेडिट कार्ड से खाताधारक अधिक पैसे निकाल सकता है खाते में पैसे न होने के बावजूद भी अकाउंट से खाताधारक पैसे निकाल सकता है जो सभी खाताधारक की अलग अलग लिमिट होती है फिर कुछ समय बाद उस रकम को खाताधारक के द्वारा जमा करना होता है।

आप यु समझे कि क्रेडिट कार्ड से आप बैंक से कुछ समय के लिए उधार पैसे ले सकते है इस रकम को अपने ज़रूरत के हिसाब से खर्च कर सकते है फिर जब आपके पास पैसे आये तो इसमें जमा कर सकते है हर यूजर के क्रेडिट कार्ड की लिमिट बैंक के द्वारा सेट होती है जितना यूजर की लिमिट है उससे अधिक पैसे यूजर नहीं निकाल पायेगा उससे कम ही निकाल सकता है।

बहुत सारे नौकरी पेशा कर्मचारी भी क्रेडिट कार्ड बनवाना चाहते है चाहे वो सरकारी नौकरी करते हो या प्राइवेट नौकरी करते हो क्योकि नौकरी पेशा कर्मचारी को महीने एक ही बार सैलरी मिलती है और अगली सैलरी मिलने से पहले खत्म हो जाती है जिससे व्यक्ति को परेशानी आती है इसलिए बहुत सारे लोग क्रेडिट कार्ड बनवाते है लेकिन सभी कर्मचारी के द्वारा क्रेडिट कार्ड नहीं बनवाया जा सकता है क्रेडिट कार्ड के लिए कर्मचारी के बैंक अकाउंट में हर माह 15000/- न्यूनतम आना ही चाहिए।

यदि नौकरी पेशा कर्मचारी की मानसिक वेतन 15000/- रूपये है तो बड़ी आसानी से वह क्रेडिट कार्ड बनवा सकता है इससे कम होने पर नौकरी पेशा कर्मचारी को क्रेडिट कार्ड बनवाने में काफी परेशानी आती है बहुत सारे व्यक्ति इससे कम वेतन होने के बावजूद भी क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई कर देते है जो बैंक के द्वारा कुछ ही समय में रिजेक्ट कर दिया जाता है।

अगर आप एक नौकरी पेशा कर्मचारी नहीं है आप खुद का कोई बिज़नेस करते है तो भी आप क्रेडिट कार्ड बनवा सकते है इसके लिए आपको अपने बैंक का न्यूनतम बैलेंस मेन्टेन करके रखना होगा सिविल स्कोर के साथ क्रेडिट स्कोर अच्छा होना चाहिए तब भी आप बैंक से क्रेडिट कार्ड ले सकते है यदि सब कुछ आपका सही है तो आप क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई कर सकते है।

क्रेडिट कार्ड के फायदे।

चलिए इसके फायदे पर एक नजर डालते है क्योकि बहुत सारे लोगो को क्रेडिट कार्ड इस्तेमाल करना बहुत बेकार लगता है फालतू की चीज लगती है लगता इससे कोई फायदा नहीं है आइये देखते है।

  • क्रेडिट कार्ड से यूजर को इंस्टेंट लोन की सुविधा मिल जाती है।
  • पैसे न होने पर क्रेडिट कार्ड आपका साथ दे सकता है।
  • अचानक पैसो की आवश्यकता पड़ने पर क्रेडिट कार्ड से पैसे ले सकते है।
  • कॅश लेकर घूमने से फुर्सत मिल जाती है आदमी अपने आपको हल्का महसूस करता है कॅश लेकर चलने में काफी परेशानिया भी आ जाती है।
  • क्रेडिट कार्ड से ऑनलाइन शॉपिंग कर सकते है उस पर रिवॉर्ड भी मिलते है जिससे आपकी बचत होती है।
  • यदि आपके पास क्रेडिट कार्ड है तो ऑनलाइन कोई भी प्रोडक्ट EMI पर ले सकते है।
  • ऑनलाइन पेमेंट करने और ई-कॉमर्स वेबसाइट से शॉपिंग करने पर कैशबैक और रिवॉर्ड जीतकर पैसे की बचत कर सकते है।

क्रेडिट कार्ड के नुकसान।

जहा पर फायदे दिखाई देते है वही पर कई प्रकार के नुकसान भी दिखाई देते है क्रेडिट कार्ड के बहुत सारे फायदे है साथ नुकसान भी है क्रेडिट कार्ड इस्तेमाल करने के आइये इस पर भी चर्चा कर लेते है।

  • क्रेडिट कार्ड इस्तेमाल करके पैसे खर्च करना एक तरह का लोन लेना हुआ।
  • कई क्रेडिट कार्ड इस्तेमाल करने पर यूजर कई बार कर्ज की जाल में फस जाता है जो काफी परेशानी का सामना करना पड़ जाता है।
  • कई लोग जोश में आकर क्रेडिट कार्ड से काफी अधिक शॉपिंग कर लेते है फिर भरने में तकलीफ होती है।
  • क्रेडिट कार्ड के ड्यू डेट पर व्यक्ति को पेमेंट करना पड़ता है।
  • यदि क्रेडिट कार्ड का एक बार बिल भरना भूल गए तो आपको भारी ब्याज देना पड़ सकता है।
  • क्रेडिट कार्ड स्कोर ख़राब होने पर लिमिट कम कर दी जाती है साथ अधिक ख़राब होने पर कार्ड ब्लॉक भी हो सकता है।
  • इस कार्ड का इस्तेमाल करके पैसे खर्च करना और कर्ज के कुआ में निचे जाने जैसा है।

क्रेडिट कार्ड कितने दिन में बन जाता है?

अब क्रेडिट कार्ड बनवाना बहुत आसान हो गया है बहुत कम समय में बैंको के द्वारा क्रेडिट कार्ड इशू कर दिया जाता है यदि सब कुछ सही है तो नहीं तो रिजेक्ट भी कर दिया जाता है कई बैंको के द्वारा एक या दो दिन का समय लिया जाता है कुछ बैंको में इससे अधिक समय लिया जाता है वही कुछ बैंको में तुरंत क्रेडिट कार्ड खाते से लिंक करके खाताधारक को दे दिया जाता है वो कुछ समय में एक्टिवेट हो जाता है। फिर उसे खातधारक के द्वारा इस्तेमाल किया जा सकता है।

आशा है यह लेख आपको पसंद आया होगा इसमें हम लोगो ने जाना है कि क्रेडिट कार्ड के लिए कितनी सैलरी होनी चाहिए, यदि नौकरी पेशा कर्मचारी क्रेडिट कार्ड बनवाना चाहते है तो मैने ऊपर के लेख में बताया है ऐसी ही जानकारी इस ब्लॉग पर पब्लिश की जाती है अधिक जानकारी के लिए इस ब्लॉग पर पब्लिश और लेख पढ़ सकते है।

इस लेख से जुड़ा आपका कोई प्रश्न है तो आप कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है उसका उत्तर आपको उसी माध्यम से दिया जायेगा यह लेख आपको पसंद आया हो आपके प्रश्नो का उत्तर मिला हो तो इसे सोशल मीडिया पर शेयर करना न भूले ताकि अधिक लोगो तक यह लेख और जानकारी पहुंच सके।

Leave a Comment

error: Content is protected !!