लोन न चुकाने पर जेल हो सकती है?

अभी के समय अधिकतर व्यक्तियों के द्वारा लोन लिया जाता है चाहे वो लोन लेकर कोई कारोबार शुरू करते हो या घर बनवाते हो पढाई करते हो प्रॉपर्टी खरीदते हो या फिर व्हीकल लोन पर लेते हो या किसी अन्य काम के लिय ऋण लेता हो सभी उद्धारकर्ता के मन यह प्रश्न ज़रूर रहता है होगा कि लोन न चुकाने पर जेल हो सकती है. या kcc लोन नहीं चुकाने पर क्या होता है. इसकी जानकारी मैं आपको देता हूँ।

लोन लेना आज के समय में आम बात हो गयी है हर एक दूसरे व्यक्ति के ऊपर लोन होता है जोकि उसे चुकाना ही पड़ता है चाहे वो छोटी रकम का लोन हो या फिर बड़ी रकम का लोन हो बैंक या फाइनेंस कंपनी को ऋण चुकाना ही पड़ता है उसके साथ साथ लोन रकम पर लगे ब्याज को भी चुकाना पड़ता है यदि न चूका पाए तो क्या हो सकता है आइये इस विषय पर चर्चा करते है।

वैसे बैंक से ऋण लेने के प्रश्चात उस रकम को किस्तों में यानि EMI के जरिये वापस करना होता है कई बार उधारकर्ता की कंडीशन नहीं होती है की अगले महीने की EMI भर सके तो इसके लिए बैंक उधारकर्ता को कुछ मोहलत देता है जोकि आरबीआई भी यही कहता है उधारकर्ता को मोहलत मिलनी चाहिए जब 1 से 2 EMI उधारकर्ता नहीं भर पाता है तब बैंक के तरफ से नोटिस जारी की जाती है।

जब उधारकर्ता को रीपेमेंट करने में आनाकानी करता है बिना किसी परेशानी के वो EMI नहीं भरता है या किसी परेशानी को लेकर EMI नहीं भर पाता है तो बैंक उधारकर्ता को कुछ समय के लिए मोहलत देता है यदि बैंक के द्वारा दिए समय पर भी उधारकर्ता रीपेमेंट नहीं कर रहे है तो उधारकर्ता के ऊपर के बैंक कार्यवाही कर सकता है जो बैंक के पास अधिकार होता है।

लोन न चुकाने पर जेल हो सकती है?

loan-na-chukane-par-jel-ho-sakti-hai

बैंक आपना कार्यवाही उधारकर्ता के द्वारा पहली ईएमआई न भरने के पश्चात् ही शुरू कर देता है लेकिन यह मामला कितना आगे तक जा सकता है ये उधारकर्ता और बैंक के रिश्ते पर निर्भर करता है यदि ग्राहक चाहे तो बड़ी आसानी से इस मैटर को शॉर्टआउट कर सकता है वही बैंक चाहे तो ग्राहक के पास पैसे न होने तक मोहलत दे सकता है और ग्राहक जल्दी से जल्दी रीपेमेंट करने का प्रयास करे। जब ग्राहक के द्वारा रीपेमेंट करने में समय लगता है या कोशिश नाकाम होती है तब बैंक कानूनी कार्रवाही करता है।

अगर उधारकर्ता के साथ कोई ऐसी स्थिति आ गयी हो जिसमे वह क़िस्त नहीं चूका सकता है जैसे उधारकर्ता का एक्सीडेंट हो गया हो, मृत्य हो गयी हो, रीपेमेंट करने में कठिनाई आ रही हो तो उसे बैंक कुछ समय के लिए मोहलत दे देता है लेकिन सब कुछ सही होने पर बैंक उधारकर्ता को कोई मोहलत नहीं देता है पहली रीपेमेंट न होने के बाद बैंक कार्यवाही शुरू कर सकता है।

यदि बैंक को ये लग रहा है कि उधारकर्ता के पास ईएमआई के लिए पैसे पर्याप्त है और ये जानबूझकर रीपेमेंट नहीं कर रहा है तो बैंक कानूनी कार्यवाही कर सकता है जोकी बैंक के पास इसका अधिकार होता है ये मेटर आगे बढ़ने पर कोर्ट और पुलिस स्टेशन के चक्कर भी लगाने पड़ सकते है बैंक अधिकतर बार प्रयास करता है की उधारकर्ता आसानी से लोन रकम चूका दे और उधारकर्ता कई ईएमआई को मिस कर रहा होता है तो बैंक कारवाही कर सकता है।

कार्यवाही के लिए बैंक सबसे पहले उधारकर्ता को एक नोटिस भेजता है उसमे बैंक से लिये लोन रकम चुकाने लोन रकम और ब्याज दर से जुडी जानकारी होगी कितनी ईएमआई उधारकर्ता की अभी तक बची है इसके बावजूद उधारकर्ता रीपेमेंट के लिए आगे नहीं आता है तो लोन लेते समय गारंटर से संपर्क किया जाता है क्योकि लोन लेते समय गारंटर एग्रीमेंट होता है उधारकर्ता लोन रकम न चूका पाए तो गारंटर को पैसे चुकाने पड़ सकते है।

उधारकर्ता जानबूझकर डिफाल्ट करता है और वह किसी मायने में रीपेमेंट करने को तैयार नहीं होता है तो इस स्थिति में लोन रकम में बदलें में रखी गिरवी के रूप में संपत्ति को बैंक नीलाम कर सकता है और उसे नीलाम करके अपनी रकम की भरपाई कर सकता है यदि लोन रकम उस संपत्ति से अधिक की बिक जाती है तो बैंक बचे पैसो को उधारकर्ता को वापस कर देता है।

kcc लोन नहीं चुकाने पर क्या होता है?

यदि अपने किसी भी बैंक से किसी प्रकार का लोन लिया है तो चुकाना ज़रूरी है बिना चुकाए बचने का कोई गुंजाइस नहीं है यदि उधारकर्ता के सामने किसी प्रकार की कोई मुसीबत है तो उसे बैंक कुछ समय का मोहलत दे सकता है जो अगर कोई उधारकर्ता जानबूझकर रीपेमेंट करने से कतराता है तो उसके ऊपर बैंक कानूनी कार्यवाही कर सकता है।

जैसा की मैंने ऊपर के लेख में बताया है बैंक नोटिस भेजता है उसके बावजूद की उधारकर्ता लोन रकम चुकता नहीं करता है उसके बाद बैंक उधारकर्ता के ऊपर कानूनी कार्यवाही कर सकता है और उधारकर्ता को कोर्ट के चक्कर भी लगाने पड़ सकते है अगर आप एक उधारकर्ता है तो इस स्थिति तक कभी न पहुंचे। क्योकि क्रेडिट स्कोर ख़राब हो जाता है दुबारा लोन मिलने के चान्सेस बहुत कम हो जाते है इस लिए समय समय पर EMI भरकर लोन रकम चुकाए।

लोन माफ कैसे होगा?

जब उधारकर्ता बैंक से लोन लेकर कोई काम करता है तो बैंक से लिए लोन रकम को किस्तों में वापस करना होता है लेकिन बहुत सारे उधारकर्ता इस फ़िराक में रहते है की हमारा लोन किसी भी तरह माफ हो जाये इसका भरपाई न करना पड़े बहुत सारे लोगो के साथ ऐसा हुआ भी है लेकिन सभी का लोन नहीं माफ़ हो सकता है।

अधिकतर लोन माफ़ सरकारी योजना के तहत होते है कई बार सरकार कुछ ऐसे योजनाए लाती है जिसमे बहुत सारे गरीब मजलूम और किसानो के लोन रकम को माफ़ किया जाता है जो काफी पुराना लोन उधारकर्ता है जिसे भरने में कई लोग असर्मथ रहते है इस योजना के तहत कई लोगो के फायदे होते है लोन माफ़ होने के बाद बैंक को कोई पैसा नहीं देना होता है।

लोन सेटलमेंट क्या होता है?

लोन सेटलमेंट एक प्रकिर्या है जिसके अंतर्गत ऋण देनदार एक तय राशि को माहवारी भरने का प्रस्ताव रखता है फिर उधारकर्ता को इस रकम को महवारी चुकाना होता है जब पूरी किस्तों उधारकर्ता के द्वारा टाइम टाइम पर जमा कर दी जाती है तब लोन सेटलमेंट हो जाता है इसी प्रकिर्या को लोन सेटलमेन्ट कहते है।

आशा है यह लेख हमारे प्रिये पाठक को पसंद आया हो और इन प्रश्नो के आपको सटीक उत्तर मिले होंगे ऐसी ही जानकारी इस ब्लॉग पर डेली बेसेस पर पब्लिश की जाती है इस लेख में हमने बात की क्या लोन न चुकाने पर जेल हो सकती है. इसका उत्तर और इसके साथ कई अन्य प्रश्नो के उत्तर इस लेख में मैंने दिए है यह लेख लोन उधारकर्ता के लिए काफी महत्वपूर्ण है।

इस लेख से जुड़ा आपका कोई प्रश्न हो जिसका आपको उत्तर नहीं मालूम है उसे लेकर आप कंफ्यूज है तो उसे आप कमेंट बॉक्स के जरिये हमसे पूछ सकते है उसका उत्तर आपको अवश्य दिया जायेगा यह लेख आपके लिए हेल्पफुल रहा हो तो इसे सोशल मीडिया पर ज़रूर शेयर करे तभी अधिक लोगो तक यह जानकारी पहुंच सके।

14 thoughts on “लोन न चुकाने पर जेल हो सकती है?”

  1. मेरे पास कोई बैंक का नोटिस नहीं आया है। मुझे गिरफ्तार करने को आ रहे है।

    Reply
    • Humne bhi Poori emi de di phir bhi bank humse paisa maang rhi hai ghr pr koi notice nhi aaya lekin Call aati hai k aapko arrest krne aa rhe hai Humne scooty Finance krwayi thi jiski Sari emi ja chuki hai aapk btaye kya hoga sir

      Reply
      • Mam.. apke pass receiving to hoga hi. use aap dikha sakti hai, jo ager nhi mante to police case kar skti hai.

        Reply
  2. 19/9/2018 me loan li thi mene bank se khudka new business start up krne ke liye bina koi security rkhe hue mujhe bank vale ne 2 lac ka loan diya tha aur kaha ki pehle 2 lac ka loan pass hoga uske bad ap 3 ya 4 mahina emi bharna or fir apki 25 lac ki loan pass krva duga jisme se ye 2 lac vala amount kata duga aur fir ap apna business start kr skte hai or emi dhire dhire bharte rehna mujhe mere disabled certificate or adhar card ki photo per hi loan diya gya tha..mene 6 mahine time pr emi pay kiya kisi tarah kyuki me koi job nhi thi..fir unhone kaha ki apki 25 lac ki loan pass nhi ho payegi fir mere pas koi kaam nhi tha to mene emi bharna band kiya 2 saal tak kisi ne mujhe emi or loan ke bare me koi suchna ya notice nhi bheji ab lockdown ki wajah financial condition aur bigad gyi hai to mere ghr per notice bheji ..mene kisi tarah 50000 rupiye kisi se udhr lekar settlement krne gya to unlogone bola apko kum se kum1,50000 lac rupiy bharne padenge..meri ammi ki tbiyat kharab ho gyi kyuki ye log ghar pr aker dhanki dete hai koi bhi time ajaye hai bina mujse bt kiye jiski wajah meri ammi ki halat aur bigad jati hai.ap hi bataye sir mere pas koi kaam nhi h abhi itna to me kese itni jald loan pura kru dhoke se in logo ne jabardasti ese bt ki ki me apko 25 lac ka loan pass krva duga or mera loan pas kr diya gya..aur pehle b mene udhar pese lekar kuch 30000 rupiye inko dene pade loan process krane ke liye bola apka 25 lac ka loan pass hoga to usme return ho jayenge..ap hi bataye sir ji me kese kya kru .bahut jada paresani me hu mentally disturb ho chuka hu me .mere disabled certificate or inhine ye loan pass kra diya ..ap plz muje guide kre me kese kya kru jaldi reply de sir ji .
    Mo. Faisal

    Reply
  3. Sir mera naam pawan viswakarma Hai Mai Bhopal Mai rahta hu lock down se pahle 1 bhi Kisst bounce nahi hai meri 855 civil score tha school mai 2 Gadi lagai thi attached 1 sal Gadi acchi chali fir lock down aa gaya ab dono Gadi bik gai hai gadi lene OR Kaam suru krne ke liye 50 hajar 30 hajar ese chote chote lone they ab mai puri tarah barbaad Ho gaya hu ghar valo ne bhi ghar se alag kr diya hai ab lagta hai sosite hi krna padega hamare desh mai nokri to hai nahi agar koi besness kre to esa hota hai corona hum to Nahi laye na Sir fir hame kyu paresan kiya ja raha hai agar muje kuch time jaye to Mai inke pese inke mu par maar du par ye ghar pahuch jate hai mere ghar Vale mujse vese bhi naraj hai OR ye rikavri Vale vaha pahuc jate hai ab koi option nahi hai mere pass isliye aaj google par ye sab dekhna pad gaya

    Reply
    • ऐसा कुछ भी करने की आवश्यकता नहीं है सर आप बैंक के ऑफिसर से जाकर अपनी परेशानी बताइये हो सकता है आपको कुछ टाइम बैंक से मिल जाये।

      Reply
  4. सर मेरा नाम राजेश सिंह चौहान है मैं मूल रूप से पीलीभीत उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी हूं मैं यहां दौसा राजस्थान में 2015 से किराये पर रह कर अपना खुद का बिजनेस कर रहा था, मुझे एचडी एफ सी बैंक बालों ने फोन पर कहा कि आपके खाते पर आफर चल रहा है पौने चार लाख (375000)आपके खाते में दो मिनट में जंबो लोन जमा कर दिया बिना किसी गारंटर एवं कागजातों के और अपना बिजनेस करते हुए ईएमआई से जमा करते रहना मैंने लगभग बीस ईएमआई जमा कर दी लेकिन अब मैं लाकडाउन की वजह से मेरा बिजनेस पूरी तरह से धराशाई हो गया है मेरे पास आज की स्थिति ऐसी हो गई है कि परिवार पालना भारी पड़ रहा है आज खुद ई-रिक्शा चला रहा हूं मेरी हालत बहुत ही बिगड़ गई है बैंक बालों ने नोटिस जारी कर दिया है ऐसी विषम परिस्थितियों में मेरा मार्गदर्शन करें धन्यवाद निवेदक राजेश सिंह चौहान

    Reply
  5. Sr Maine ek. App,,,se loan liya h aur mai loan chukane asmrt hu muje per day daily call aate h kya kru

    Reply
  6. Sir mai kisi Malik ke khany per mai kisi car lone mai mujy co applicant bana diya gaya he par Malik bhag gaya aur wo car bhi missing he aur Bank waly mujy notice par notice paryshan kar rahe he our mujy bank se bhi notic aa raha he mai kesy Bach sakta hu pls mujy bataay pls sir

    Reply

Leave a Comment