वन और पर्यावरण पर निबंध | Essay on forest and environment in hindi.

वन और पर्यावरण पर निबंध, wan-aur-paryawarn-par-nibandh

इस लेख में (वन और पर्यावरण पर निबंध) कैसे लिखते है सीखेंगे यदि आप वन और पर्यावरण पर निबंध या इस विषय पर कुछ लाइन लिखना चाहते है तो यह लेख आपको काफी हेल्प कर सकता है इस आर्टिकल के अंदर वन का क्या महत्वा है पर्यावरण का क्या महत्वा है इस विषय की विशेष जानकारी जानेगे।

वन क्या है कई लोगो को पता नहीं होगा तो मैं आपको बता दू वन को अंग्रेजी में (Forest) कहते है वन को जंगल और सहरा के नाम से भी जानते है जहा पर अधिक पेड़ पौधे घास और पुष हो उसे हम वन कहते है इस तरह से भी समझ सकते है किसी एक जगह पर काफी सारे पेड़ पौधे लगे हो उसे वन या जंगल कहते है।

पर्यावरण क्या है हमारे चारो तरफ जो दिखता है हमारे चारो तरफ से हमे घेरे हुए है या हमारे आस पास में दिखने वाली वस्तुओ को पर्यावरण कह सकते है इसमें जैविक अजैविक मानव निर्मित वस्तु प्रकिर्तिक वस्तुए हो सकती है इसके अतिरिक्त प्रकिर्तिक पर्यावरण में पेड़ पौधे झाड़िया नदी तालाब झरने झील हवा इत्यादि हो सकते है इसी को पर्यावरण कहते है।

वन और पर्यावरण पर निबंध – van aur paryavaran ka sambandh.

वन और पर्यावरण में काफी गहरा सम्बन्ध है वन और पर्यावरण से वह प्रकिर्तिक संसाधन जुड़े है जो हमे चारो ओर से घेरे हुए है जो मनुष्य को सुरक्षित और स्वस्थ बनाये रखने में काफी मदद करते है हमें विकसित तथा बढ़ने में मदद देते है वन और पर्यावरण हमें सब कुछ प्रदान करते है इस धरती पर जिन चीजों की आवश्यकता है जीवन जीने के लिए वह मिलती है।

यह जीवित प्राणी के लिए जीवनदायक है इस धरती पर जितने भी जीवित प्राणी है उन्हें वन और पर्यावरण की शख्त ज़रुरत है ये धरती के उपजाऊ शक्ति को बढ़ाते है वनो के कारण ही भूमि कटान नियंत्रित होता है जल का एक स्तर बनाये रखने में पेड़ पौधे काफी मदद करते है सूखा पड़ने से रोकता है सूखा पड़ने पर सारे जीवित प्राणी का नाश हो सकता है।

वन और पर्यावरण वर्षा लाने में सहायक होते है वन ही अधिक जल को अपने भीतर सोखकर बाढ़ को रोकती है और वही जल धीरे धीरे पर्यावरण खींच लेता है वर्षा होने पर ही धरती जल का स्तर बनाकर रखती है जिसमे वन का बड़ा योगदान है वनो के कमी होने पर जल का ठहराव कम होगा पिने के लिए जल नहीं मिलेंगा जिससे जीवित प्राणी को नुकशान हो सकता है।

पर्यावरण प्रदुषण की समस्या दिन प्रति दिन बढ़ती जा रही है जिसका बड़ा कारण वृक्षों की कमी है और तमाम तरीको की गैस धुआँ दूषित हवा बढ़ती है वृक्षों की कमी के कारण से पर्यावरण मेन्टेन नहीं हो पा रहा है और मनुष्य के द्वारा छोड़ी जाने वाली कार्बन डाई ऑक्साइड गैस जो पेड़ पौधे अपने भोजन के लिए इस गैस को लेते है और हमें ऑक्सीजन मुहैया कराते है ताकि मनुष्य जीवित रहे।

और पढ़े…

वन और पर्यावरण पर निबंध 200 शब्द

वर्तमान में ध्वन प्रदुषण बढ़ रहा है इससे काफी लोगो को गहरा नुकशान भी होता है जो पेड़ पौधो की कमी से हो रहा है ध्वन प्रदुषण को वन काफी मात्रा में रोकती है यही कारण है जो शहरो में इन सभी कारण के वजह से कई परेशानी होती है ध्वन प्रदुषण रोकने के लिए अधिक पेड़ पौधे लगाने की आवश्यकता है।

वन पेड़ पौधे धरती को सुरक्षित रखते है मनुष्य को सुरक्षा मुहैया करवाते है जीव जंतु को सुरक्षित रखते है नदियों को सुरक्षित रखते है और पिए जल को सुरक्षित रखते है आज सभी को चिंतित होने की आवश्यकता और इस इस विषय पर विचार करना चाहिए की बड़ी मात्रा में पेड़ पौधो को काटा जा रहा है वर्तमान समय में 23% ही भारत में वन बचा हुआ है।

वन से हमें जड़ी बुटिया प्राप्त होती है जिनसे दवाये बनती है दवा में इस्तेमाल किया जाता है और उन जड़ी बूटियों को सेवन करते है मनुष्य स्वस्थ होता है जिव जंतु वृक्षों से अपना भोजन प्राप्त करते है और जीवन यापन करते है वन और पर्यावरण का हमारे जीवन में काफी महत्वा है बिना वन या पर्यावरण के किसी भी जीवित प्राणी के लिए जीवन यापन करना मुश्किल हो सकता है इस लिए अपने जीवन में अधिक से अधिक पेड़ पौधे लगाए और उन्हें पानी दे ताकि पौधो की ग्रोथ हो और पर्यावरण मेन्टेन रहे।

निष्कर्ष

मुझे आशा है आपको इस विषय यानि वन और पर्यावरण के संबंध पर निबंध कैसे लिखते है विस्तृत जानकारी प्राप्त हुयी होगी उम्मीद है पसंद आया होगा और आपके द्वारा इस विषय पर आसानी से निबद्ध लिखा जा सकता है अक्सर कॉलेज स्कूल में निबंध लिखने को बोला जाता है अब आप आसानी से इस टॉपिक पर निबंध लिख सकते है।

यदि इस लेख से सम्बंधित कोई प्रश्न है तो आप उसे पूछ सकते है इसके लिए आपको निचे कमेंट बॉक्स का विकप्ल मिल जायेगा उसे इस्तेमाल में ले और प्रश्न टाइप करे नाम लिखे और सेंड कर दे उसका जवाब आपको अवश्य दिया जायेगा लेख पसंद आया हो लाभकारी लगा हो तो इसे सोशल मीडिया प्लाटफॉर्म पर शेयर करे।

4 thoughts on “वन और पर्यावरण पर निबंध | Essay on forest and environment in hindi.”

  1. Me van sanrakshan or Vanya jiv sanrakshan or samvardhan par samuh ke madhyam se kaise kar sakte hai ?

    Reply
  2. Sir aap yhi English me 500 words bej dijiye please…

    Reply
    • अंशिका जी आप उसे कॉपी करे और Google Translate से इंग्लिश में कन्वर्ट कर सकती है।

      Reply

Leave a Comment