kcc लोन नहीं चुकाने पर क्या होता है?

ऐसे प्रश्न बहुत सारे उधरकर्ता के मन में रहते है की बैंक से लोन लेकर न चूका पाए तो क्या होगा kcc लोन नहीं चुकाने पर क्या होता है. इसकी जानकारी मैं इस लेख में देने वाला हूँ केसीसी से सम्बंधित कई प्रश्न इंटरनेट पर पूछे जाते है तो इस प्रश्न का जवाब मैं इस लेख में देने वाला हूँ अधिक जानकारी के लिए लेख को पूरा पढ़े।

हर कोई चाहता है की मुझे कम ब्याज दर लोन मिल जाये और अपने काम को आसानी से पूरा करले अलग अलग कामो के लिए बैंक से लोन लिया जाता है लेकिन कई लोगो को लोन चुकाने में काफी परेशानी आती है पैसे पुरे न होने पर पैसो का भरपाई नहीं कर पाते है इसीलिए उनके कई प्रश्न होते है केसीसी से समबन्धित जानकारी के लिए इसे पूरा पढ़े।

केसीसी (Kisan Credit Card) किसानो के आर्थिक मदद के लिए सरकार के द्वारा इस लोन योजना को शुरू किया था इससे किसानो के द्वारा 3 लाख रूपये तक का लोन लिया जा सकता है वो भी बहुत कम ब्याज दर पर इसके साथ अगर उधारकर्ता इस लोन रकम को समय पर बैंक को लौटा देता है तो उसे सरकार के द्वारा सब्सिडी भी दिया जाता है इससे किसानो को काफी रहत मिलती है।

इस योजना का लाभ किसान अपने ज़रूरी कामो के लिए ले सकते है जैसे कृषि यंत्र खरीदना, फसल की बीज, खाद, और दावाओ को किसान आसानी से खरीद सकता है इसके अलावा भी कई कामो को लिए किसान इस योजना का लाभ ले सकता है लेकिन कई बार लोन लेने के बाद आर्थिक स्थिति ख़राब हो जाती है और किसान लोन रकम चुकाने में असमर्थ हो जाता है।

kcc लोन नहीं चुकाने पर क्या होता है?

kcc-loan-nhi-chukane-par-kya-hota-hai

किसान क्रेडिट कार्ड योजना के जरिये बहुत सारे किसानो ने बैंक से लोन लेकर अपने कामो करते है लेकिन कई किसानो के द्वारा लिये गए लोन को चुकाने में काफी परेशानी आती है तो इस अवस्था में किसान काफी परेशान होता है बहुत सारे किसान जान बूझकर लोन रकम बैंक में जमा नहीं करते है उनको लगता ये माफ़ हो जायेगा लेकिन ऐसा बिलकुल भी नहीं है।

अगर बैंक से किसी प्रकार का लोन ले रखा है तो उधारकर्ता को रीपेमेंट करना ही पड़ेगा यदि बैंक से लिया गया लोन रकम वापस नहीं किया जा रहा है तो बैंक के द्वारा उधारकर्ता पर कानूनी करवाई किया जा सकता है इसके लिए पहले उधारकर्ता को नोटिस भेजा जाता है नोटिस भेजने के बावजूद भी उधारकर्ता बैंक जाकर बात नहीं करता है और पैसा नहीं जमा करता है तो बैंक कानूनी एक्शन ले सकता है।

नोटिस मिलते ही उधारकर्ता को बैंक जाना चाहिए और वह लोन कर्मचारी से बात करना चाहिए और बैंक से रीपेमेंट के लिए थोड़ा मोहलत मांगना चाहिए अगर बैंक आपको कुछ दिनों का मोहलत दे देता है तो आपको पैसा का व्यवस्था करके बैंक में जमा कर देना चाहिए।

वही नोटिस मिलने के बाद भी उधारकर्ता बैंक न जाये और उसके द्वारा उसे इग्नोर किया जाये तो बैंक उस उधारकर्ता के खिलाफ कानूनी कार्यवाई कर सकता है और उधारकर्ता को जेल भी जाना पड़ सकता है साथ ही कोर्ट के चक्कर भी लगाने पड़ सकते है इसलिए आपको नोटिस आते ही बैंक से संपर्क करना चाहिए।

यदि आपने केसीसी योजना के माध्यम से लोन ले रखा है तो आपको बैंक का समय से रीपेमेंट कर देना चाहिए अन्यथा बैंक कानूनी करवाई करके आपको कोर्ट और कचेहरी के चक्कर लगवा सकता है इसलिए हर महीने की जो भी ईएमआई बन रही हो उसे आप बैंक में समय समय पर जमा करदे तो बेहतर होगा।

लोन न चुकाने पर जेल हो सकती है?

तो इसका जवाब हाँ है अगर आपने बैंक से किसी प्रकार लोन ले रखा है और महवाही क़िस्त आप मिस कर रहे है समय पर रीपेमेंट नहीं कर रहे है तो उधारकर्ता को जेल की हवा खानी पड़ सकती है लेकिन इससे पहले बैंक उधारकर्ता को नोटिस भेजता है उसके बावजूद भी उधारकर्ता रीपेमेंट के लिए बैंक नहीं जाता है तो बैंक कार्यवाई कर सकता है।

वही बैंक में उधारकर्ता के द्वारा लोन रकम के लिए कोई सम्पति गिरवी रखी गयी होगी तो बैंक इस सम्पति को नीलाम कर सकता है अगर उधारकर्ता नोटिस भेजने के बाद भी बैंक नहीं जाता है तो। गिरवी में रखी सम्पति को बैंक के द्वारा नीलाम करने पर पहले पब्लिक्ली बताना होगा उसके बाद ही बैंक उसकी नीलामी कर सकता है।

गिरवी सम्पति नीलाम करने के बाद जो रकम मिलेगा उसमें से बैंक अपना पैसा काट लेगा उसके अलावा बचा हुआ पैसा बैंक के द्वारा उधारकर्ता के बैंक अकाउंट में जमा कर दिया जायेगा क्योकि बैंक उतना ही पैसा ले सकता है जितना उसका बकाया है उससे अधिक पैसा बैंक नहीं ले सकता है।

अगर उधारकर्ता को लगता है की हमारी सम्पति कीमत से कम पर नीलाम की गयी है तो उसके लिए उधारकर्ता भी कानूनी कार्यवाई कर सकता है उधारकर्ता के पास भी कई अधिकार है जिसका वह लाभ उठा सकता है अगर आप उधारकर्ता के अधिकार जानना चाहते है तो इस लेख को पढ़े।

सारांश

आशा है आपके द्वारा खोजे जा रहे प्रश्न का उत्तर मिल गया होगा इसमें हम लोगो ने बात की है की kcc लोन नहीं चुकाने पर क्या होता है. इस विषय पर मैंने विशेष जानकारी इस लेख में देने का प्रयास किया है यह जानकारी हर एक उधारकर्ता के लिए काफी महत्वपूर्ण है क्योकि लोन लेकर न चुकाने पर क्या होता है वो हर एक ऋण लेने वाले व्यक्ति को पता होना चाहिए।

ऐसी ही यूज़फुल इनफार्मेशन मैं इस ब्लॉग पर शेयर करता रहता हूँ इस ब्लॉग पर लोन से जुडी जानकारी क्रेडिट कार्ड से जुडी जानकारी सिबिल स्कोर और अन्य जानकारी इस ब्लॉग पर टाइम टाइम से पब्लिश की जाती है ऐसी और जानकारी के लिए हमारे दूसरे के अन्य आर्टिकल भी पढ़े।

इस लेख से जुडा आपका कोई प्रश्न हो या इसके अतिरिक्त कोई प्रश्न हो तो आप कमेंट में पूछ सकते है यह लेख पसंद आया हो तो इसे सोशल मीडिया पर शेयर करना न भूले ताकि अधिक लोगो तक यह जानकारी पहुंच सके।

12 thoughts on “kcc लोन नहीं चुकाने पर क्या होता है?”

  1. क्या केसीसी ऋण वसूली के लिए बैंक बिना सरफेसी के डीआरटी में जा सकते हैं

    Reply
  2. husband ko death ho jaye or loan wife ke nam pr liya ho to wife na chuka pa rhi ho loan to loan emi km kaise krwa skte h

    Reply
  3. मेरे पिताजी ने किसान क्रेडिट कार्ड से लोन लिया था जिनकी डेथ हो चुकी है क्या लोन माफ हो सकता है जितना लिया था उतना मैं जमा करने से अकाउंट क्लोज हो सकता है

    Reply
    • हाँ आप पैसे जमा करके सेटलमेंट कर सकते है, माफ़ होने के लिए आप बैंक से एक बार बात कर लीजिये

      Reply
  4. Kya bank kcc jma n krne pr r c jari kar sakta hai or kya kisan ki jameen PR ameen laal jhandi lga sakte h kya

    Reply
  5. Kcc loan lene ke bad use ek sath jama karna chahte hain but ,time limit khatm ho chuki hai.naam civil me aa gaya hai aur kya wo hat jayega.bank koi riyayat bhi ni de raha hai.

    Reply
  6. क्या kcc लोन जमा करने k लिए इसे लोक अदालत में लगवा सकते है।अगर हां तो क्या प्रक्रिया है इसे लोक अदालत में लगवाने k लिए।

    Reply

Leave a Comment