लोन स्टेटमेंट क्या है – लोन स्टेटमेंट कैसे चेक करें?

ऋण अधिकतर कामो के लिए लोग बैंक से या ऋण देने वाली संस्थाओ से लेते है। लेकिन अधिकतर उधारकर्ता को यह जानकारी नहीं होती है। की लोन स्टेटमेंट क्या है लोन स्टेटमेंट कैसे चेक करें, बैंक स्टेटमेंट क्या होता है, इसके अलावा लोन स्टेटमेंट से जुडी जानकारी मैं आपको इस लेख के जरिये से देने वाला हूँ।

लोन कई कामो के बैंक से लिए जाता है। जैसे होम लोन, पर्सनल लोन, एजुकेशन लोन, बिज़नेस लोन, गोल्ड लोन, केसीसी लोन, व्हीकल लोन, प्रॉपर्टी लोन, आदि बैंको से लिए जाते है। ऋण रकम को किस्तों में बैंक को चुकाना पड़ता है। लोन अकाउंट की स्थिति जानने के लिए लोन अकाउंट के स्टेटमेंट की आवश्यकता होती है।

ऋण का विवरण जानने के लिए उधारकर्ता को बैंक कई सुविधाएं देता है। जिसमें ऑनलाइन और ऑफलाइन माध्यम से लोन का विवरण देखा जा सकता है। लोन देने वाली संस्थाए मानसिक लोन अकाउंट स्टेटमेंट उधारकर्ता को प्रदान करती है। जिससे उधारकर्ता अपने ऋण खाते की स्थिति जाँच सकता है।

वर्तमान में ऋण खाते का विवरण निकालना काफी सिम्पल हो गया है। किसी बैंक अकाउंट का स्टेटमेंट उधारकर्ता या खाताधारक ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों माध्यमों से जाँच सकता है। यह विवरण उधारकर्ता हर महीना निकाल सकता है।

लोन स्टेटमेंट क्या है – Loan Statement kya hai?

Loan Statement का हिंदी अर्थ ऋण विवरण होता है। यानि बैंक से या ऋण देने वाली संस्थानों से लिए गए ऋण का विवरण होता है। इसमें लोन अकाउंट से हुए लेनदेन को दर्शाया जाता है। जिससे उधारकर्ता को यह पता चलता है। की ऋण का ईएमआई कब जमा करना है कितनी किस्ते जमा हो चुकी है कितनी किस्ते बाकि है। इसके अतिरिक्त ऋण से संबधित अन्य जानकारी होती है।

लोन स्टेटमेंट में लोन से सम्बंधित सभी जानकारी मेंशन होती है। लोन स्टेटमेंट में महीने दर महीने बदलाव भी हुआ करता है। जैसे जैसे उधारकर्ता के द्वारा किस्ते चुकाई जाती है। उसी हिसाब से ऋण विवरण भी अपडेट होता है। उधारकर्ता स्टेटमेंट को हर महीने निकालकर देख सकता है।

ऋण विवरण निकालने के कई विकल्प उधारकर्ता को मिल जाते है। उधारकर्ता चाहे तो बैंक की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर ऋण विवरण निकाल सकता है। नेट बैंकिंग मोबाइल बैंकिंग से स्टेटमेंट निकाल सकता है। और बैंक जाकर भी लोन स्टेटमेंट निकाल सकते है। अगर आप ऑनलाइन नहीं निकाल सकते है। तो आप बैंक जाकर बड़ी आसानी से लोन स्टेटमेंट निकाल सकते है।

अन्य लेख

बैंक स्टेटमेंट क्या होता है – Bank Statement kya hota hai?

स्टेटमेंट एक पेपर होता है। जिसमे बैंक अकाउंट से जुडी इनफार्मेशन छापी जाती है। जिससे खाताधारक को अपने खाते की स्थिति मालूम करने में आसानी होती है। जैसे कब कितना लेनदेन हुआ है। लेनदेन का माध्यम क्या रहा है। कितने रकम का लेनदेन हुआ है। खाते में शेष राशि क्या है। पिछले ट्रांसक्शन कितने का और किसको किया गया है।

यह विवरण बैंक के द्वारा प्रत्येक खाताधारक को दिया जाता है। इसे खाताधारक बैंक से या ऑनलाइन वेबसाइट नेटबैंकिंग के माध्यम से निकाल सकता है। बैंक स्टेटमेन्ट खाताधारक अपने ज़रुरत के हिसाब से निकाल सकता है। जैसे 6 महीने 1 वर्ष या इससे अधिक समय का बैंक स्टेटमेंट निकाला जा सकता है।

बैंक स्टेटमेंट कई कामो के लिए निकाला जाता है। जैसे आईटीआर फाइल करने के लिए, लेनदेन से हुए मतभेद को क्लियर करने के लिए, खाते की शेष राशि को जानने आदि के लिए खाताधारक बैंक से स्टेटमेंट निकालते है। यह बैंक के द्वारा फ्री में खाताधारक को दिया जाता है। कुछ बैंक इसके लिए अकाउंट होल्डर से चार्ज भी करते है।

लोन स्टेटमेंट कैसे चेक करें – loan statement kaise check kare?

अधिकतर वित्तीय संस्थान उधारकर्ता को मानसिक लोन स्टेटमेंट प्रदान करते है। जिसमें उधारकर्ता को लोन से जुडी कई जानकारी दी जाती है। इससे उधारकर्ता को यह मालूम होता है। की भुगतान डेट क्या है कितनी किस्ते बची है कितनी किस्ते जमा हो चुकी है। और अन्य उपयोगी जानकारी स्टेटमेंट में बैंक की ओर से मेंशन किया जाता है।

लोन स्टेटमेंट सुविधा अधिकतर बैंक और फाइनेंस कम्पनिया ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों माध्यम उधारकर्ता को मुहैया करवाती है। इसके लिए कोई भी एक विकल्प अपनाकर आप लोन स्टेटमेंट निकाल सकते है।

संस्थान की वेबसाइट से

उधारकर्ता ऑनलाइन ऋण लेने वाले ससंथान की वेबसाइट से भी लोन स्टेटमेंट प्राप्त कर सकते है। वेबसाइट पर कंस्यूमर पोस्टल का ऑप्शन मिल जायेगा। उस पर क्लिक करके अपना कस्टमर आईडी और ओटीपी के जरिये वेबसाइट से लोन स्टेटमेंट निकालकर लोन स्टेटमेंट डाउनलोड कर सकते है।

संस्थान के मोबाइल अप्प से

बैंको के द्वारा ऑनलाइन स्टेटमेंट प्रदान करने के वेबसाइट और अप्प का इस्तेमाल किया जाता है। अगर आप नेटबैंकिंग का इस्तेमाल कर रहे है। तो भी आप बड़ी आसानी से लोन स्टेटमेंट प्राप्त कर सकते है मोबाइल अप्प से स्टेटमेंट डाउनलोड करने के लिए यूजर के पास आईडी और पासवर्ड होना चाहिए।

संस्थान के ब्राँच से

यदि आप ऑनलाइन लोन स्टेटमेंट नहीं निकाल पा रहे है। या नहीं निकालना चाहते है। तो आप ऋण लेने वाले संस्थान से लोन स्टेटमेंट प्राप्त कर सकते है। इसके लिए आप ब्राँच जाकर स्टेटमेंट के लिए एप्लीकेशन लिखकर आप लोन स्टेटमेंट बैंक ब्रांच से निकाल सकते है।

लोन अकाउंट नंबर क्या होता है?

जिस तरह बचत खाता का अकाउंट नंबर होता है। उसी तरह का लोन अकाउंट नंबर होता है। जिसके माध्यम से आपका लोन स्टेटमेंट निकाला जाता है। लोन अकाउंट नंबर से उधारकर्ता के लोन का विवरण निकलता है। इसी नंबर से उधारकर्ता के लोन की स्थिति जांची जाती है। वो उधारकर्ता के आधार कार्ड, पैन कार्ड से लिंक होता है। इस लोन अकाउंट नंबर से उधारकर्ता के अगले और पिछले ऋण के बारे में जानकारी प्राप्त की जा सकती है।

आशा करते है। मेरे द्वारा लेख में मेंशन किया गया बैंक स्टेटमेंट क्या होता है और लोन स्टेटमेंट कैसे चेक करें, इससे सम्बंधित अन्य जानकारी भी मैंने इस लेख में जोड़ने का प्रयास किया है। इस ब्लॉग पर लोन, क्रेडिट कार्ड, और एप्लीकेशन लिखने, जैसे टॉपिक को कवर किया जाता है। अधिक जानकारी के लिए ब्लॉग पर पब्लिश दूसरे लेख पढ़ सकते है।

यदि इस ब्लॉग से जुड़ा आपका कोई भी किसी प्रकार का प्रश्न है। तो कमेंट में लिखकर पूछ सकते है। उसका अवश्य आपको उत्तर मिलेगा। ऐसे ही जानकारी के लिए ब्लॉग पर पब्लिश दूसरे लेख पढ़ सकते है। इस लेख से आपको सहायता मिला हो। तो इसे सोशल मीडिया पर शेयर करना न भूले।

Leave a Comment